उस प्याले से प्यार मुझे जो दूर हथेली से प्याला,
उस हाला से चाव मुझे जो दूर अधर से है हाला,
प्यार नहीं पा जाने में है, पाने के अरमानों में!
पा जाता तब, हाय, न इतनी प्यारी लगती मधुशाला।।९९।

I fall in love and desire what’s beyond reach

I aspire for what is far away from me

Love is not in possessing but in craving for love

If I did have you with me, then it wouldn’t be as sweet .

जो हाला मैं चाह रहा था, वह न मिली मुझको हाला,
जो प्याला मैं माँग रहा था, वह न मिला मुझको प्याला,
जिस साकी के पीछे मैं था दीवाना, न मिला साकी,
जिसके पीछे था मैं पागल, हा न मिली वह मधुशाला

the radiance of moon always eluded me

my cup was never filled with luminous sea

the  companion I desired never gave me the love

I was crazy after the one, who never accepted me

 

 

 

 

Advertisements